Payper24

अशनीर ग्रोवर की पूरी जीवन कहानी | Ashneer Grover life story in hindi

Ashneer Grover life story in hindi

अशनीर ग्रोवर [नेट वर्थ ₹710 करोड़]

भारतीय उद्योगपति

अशनीर ग्रोवर एक भारतीय उद्योगपति, भारतपे के प्रबंध निदेशक और सह-संस्थापक है। भारत पे शुरू करने से पहले उन्होंने कोटक इन्वेस्टमेंट बैंक, ग्रोफर्स, पीसी ज्वैलर लिमिटेड और अमेरिकन एक्सप्रेस जैसी विभिन्न कंपनियों में काम किया है।

नाम : अशनीर ग्रोवर
वैवाहिक स्थिति : विवाहित
पत्नी का नाम : माधुरी जैन ग्रोवर
बच्चे : एवी ग्रोवर, मन्नत ग्रोवर
माता – पिता : ज्ञात नहीं
जन्म तिथि : 14 जून 1982
जन्म स्थान : दिल्ली (भारत)
स्कूल : एपीजे स्कूल
कॉलेज / विश्वविद्यालय : इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी (दिल्ली), इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ मैनेजमेंट (अहमदाबाद), इंस्टिट्यूट नेशनल डेस साइंसेज एप्लिकेस डी ल्यों (फ्रांस)
व्यवसाय : उद्यमी, बिज़नेसमैन
मासिक आय : 4 करोड़ +
पुरस्कार : द एंटरप्रेन्योर ऑफ द ईयर अवार्ड (2021), यंग अचीवर्स अवार्ड (2021)

अशनीर ग्रोवर की जीवनी | Ashneer Grover life story

अशनीर ग्रोवर का जन्म 14 मई 1982 को दिल्ली में हुआ था। अशनीर के पिता पेशे से सीए हैं और उनकी मां पेशे से एक शिक्षिका हैं। अशनीर के पूरे परिवार में सभी या तो जॉब करते थे, या सर्विस, या फिर प्रोफेशनल्स थे। कोई भी बिज़नेस नहीं करता था।

उसके बाद अशनीर दिल्ली और अहमदाबाद से पढाई पूरी करने के बाद कुछ समय के लिए फ्रांस से एक्सचेंज प्रोग्राम के लिए सेलेक्ट कर लिए गए। अपने उत्कृष्ट अकादमिक करियर के कारण ही अशनीर को फ्रांसीसी दूतावास से € 6000 की छात्रवृत्ति मिली थी, जिसकी वज़ह से वो फ्रांस पढ़ने जा पाये थे। 

फ्रांस से फिर वापस दिल्ली आने के बाद अशनीर अपना बिज़नेस करने की सोचने लगे फिर उनके दिमाग में आया भारतपे के बारे में, हालांकि सबकी तरह अशनीर को भी कई बार खुद पर शक हुआ कि क्या मैं सही दिशा में तो जा रहा हूँ या जहाँ मैं इससे पहले था तो ही ठीक था। लेकिन फिर अशनीर ने सोचा – नहीं हर सक्सेस स्टोरी के पीछे कई फेलियर होते है तो करूंगा तो मैं अब इसी पर काम और इसी बीच उनकी मुलाकात माधुरी से हुई।

अशनीर ग्रोवर की पूरी जीवन कहानी | Ashneer Grover life story in hindi
Source : twitter.com

फिर अशनीर ने उद्यमी माधुरी जैन ग्रोवर से शादी कर ली और इस जोड़े ने दो बच्चों को जन्म दिया। एक बेटा और एक बेटी, बेटे का नाम एवी ग्रोवर और बेटी का नाम मन्नत ग्रोवर है। भारतपे में शामिल होने से पहले, माधुरी ने सत्या पॉल और आलोक इंडस्ट्रीज जैसे ब्रांडों के साथ काम किया है। इसके अलावा, वह अपना खुद का फर्निशिंग व्यवसाय चलाती है मौवे और ब्राउन नाम से।

अशनीर ग्रोवर शिक्षा | Ashneer Grover education

अशनीर ग्रोवर ने अपनी शिक्षा दिल्ली में एपीजे स्कूल में की और अपनी पोस्ट ग्रेजुएशन उन्होंने इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी दिल्ली से बीटेक में सिविल इंजीनियरिंग की पढ़ाई 2004 तक पूरी की। फिर इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ मैनेजमेंट अहमदाबाद से एम्बीए में फाइनेंस की पढ़ाई 2006 में पूरी की। 

शैक्षणिक वर्ष 2002-2003 के लिए आईएनएसए-ल्योन विश्वविद्यालय, फ्रांस के साथ विनिमय कार्यक्रम के लिए 450 के बैच में आईआईटी दिल्ली द्वारा चुने गए 6 छात्रों में से अशनीर एक थे जिनको आईआईटी दिल्ली ने भेजा था। अशनीर को फ्रांसीसी दूतावास द्वारा € 6000 की छात्रवृत्ति से सम्मानित भी किया गया था। इसलिए उन्होंने फ्रांस की पढ़ाई का खर्चा खुद से उठाया। 

अशनीर ग्रोवर करियर | Ashneer Grover career

अशनीर के करियर की शुरुआत भी दिल्ली से ही हुई, 2006 में अशनीर ने ज्वाइन किया कोटैक इन्वेस्टमेंट बैंकिंग जोकि अशनीर की पहली जॉब थी। अशनीर ने कोटैक इन्वेस्टमेंट बैंकिंग में सात साल तक जॉब की और इस बैंक की उन्होंने दश डील पूरी की जिसकी वैल्यू उस वक़्त $3 बिलियन डॉलर यानि 20,000 करोड़ रूपए थी। 

अशनीर ग्रोवर की पूरी जीवन कहानी | Ashneer Grover life story in hindi
Source : Google.com

सात साल तक कोटैक इन्वेस्टमेंट बैंकिंग में काम करने के बाद अशनीर वहां से उक्ता गए और उन्हें लगा कि मुझे इस काम में मज़ा नहीं आ रहा है मुझे कुछ अलग करना चाहिए यानि कुछ अलग सेटअप में ट्राई करना चाहिए।

फिर अशनीर ने अमेरिकन एक्सप्रेस इंडिया कंपनी को ज्वाइन किया। अमेरिकन एक्सप्रेस इंडिया कंपनी में वो वाकी पेमेंट कम्पनीज में इन्वेस्ट करते थे। अशनीर ने पेटीएम, मोबिक्विक, पाइन लैब्स जैसी बड़ी – बड़ी कम्पनीज को अच्छी तरह देखा और इन्वेस्टमेंट के लिए इन कम्पनीज को टटोला भी।

अशनीर ने दो साल ही एमेक्स में बिताये और मोबिक्विक इन्वेस्टमेंट भी की उनकी सीरीज बी में और उसी दौरान अशनीर ने लगभग सौ से भी ज्यादा पेमेंट कम्पनीज के फाउंडर्स से बात भी की ताकि अशनीर बिज़नेस को और गहराई से समझ सके कि वो लोग क्या करना चाहते है और पेमेंट मार्किट किस तरीके से चलता है।

अशनीर ग्रोवर की पूरी जीवन कहानी | Ashneer Grover life story in hindi
Source : Google.com

अशनीर ने दो साल ही एमेक्स में बिताये और मोबिक्विक इन्वेस्टमेंट भी की उनकी सीरीज बी में और उसी दौरान अशनीर ने लगभग सौ से भी ज्यादा पेमेंट कम्पनीज के फाउंडर्स से बात भी की ताकि अशनीर बिज़नेस को और गहराई से समझ सके कि वो लोग क्या करना चाहते है और पेमेंट मार्किट किस तरीके से चलता है या फिनटेक जिसको बोलते है वो हिंदुस्तान में कैसे चलता है। 

फिर 2015 में अशनीर के पास पहला मौका आया एंट्ररप्रीन्योरशिप बनने का। अशनीर के एक मित्र जोकि आईआईटी से ही थे अलविन्दर जोकि ग्रोफर्स नाम की कंपनी चालू कर रहे थे और अलविन्दर ने अशनीर से पूंछा की, कि क्या तुम मुझे ज्वाइन करोगे। अशनीर ने तुरंत ग्रोफर्स को ज्वाइन कर लिया एक सीएफओ के रूप में।

फिर 2015 से 2017 तक अशनीर ने ग्रोफर्स के लिए ही काम किया और उस कंपनी के वो एकलौते ही सीएफओ थे। अशनीर ने इस कंपनी के लिए दिन रात काम किया और नतीजा यह रहा कि 2015 में शुरू हुई कंपनी 2017 तक आते – आते 30,000 प्रतिदिन के आर्डर प्राप्त करने लगी।

अशनीर को लगने लगा कि वो इस कंपनी को एक बहुत बड़ा ब्रांड बना देंगे लेकिन 2017 में अशनीर को ग्रोफर्स को छोड़ना पड़ा वो अशनीर के मुताबिक उनकी ज़िन्दगी का एक लाइफ लेसन था। अशनीर कहते है कि उन्होंने अमेरिकन एक्सप्रेस को छोड़ कर ग्रोफर्स बहुत ही कम सैलरी पर ज्वाइन किया था।

लेकिन अशनीर ने सिर्फ इसलिए ग्रोफर्स को ज्वाइन किया था ताकि वो सीख सके और उनके दोस्त अलविन्दर ने उन्हें बहुत कुछ सिखाया भी जैसे – एक स्टार्टअप कंपनी क्या होती है, एक फाउंडर किस तरीके से काम करता है बगैरह।

अशनीर ग्रोवर की पूरी जीवन कहानी | Ashneer Grover life story in hindi
Source : Google.com

अशनीर को अभी भी धंधे की करीब से समझ नहीं थी कि गल्ले पर दुकानदार किस तरीके से काम करता है तो उसके लिए अशनीर ने पीसी ज्वेलर्स के यहाँ काम किया और वहां पर अशनीर बहुत ही अलग काम कर रहे थे जोकि गोल्ड लोन का था। अशनीर का ऑफिस दिल्ली के करोल बाग में ही था।

फिर 2018 में जून में अशनीर अपने सह संस्थापक भाविक और शास्वत जोकि उन्ही के साथ आईआईटी दिल्ली में ही थे। इन दोनों लोगों ने ही यूपीआई से भारत को रूबरू करवाया था यानि एक ही क्यू आर कोड से सभी कम्पनीज का पेमेंट अब हो सकता था।

फिर अशनीर के तजुर्बे और शाश्वत और भाविक की टेक्नोलॉजी ने भारत को दिया एक नया और आसान पैसे ट्रांसफर का जरिया जिसका एप्प का नाम भारतपे रखा गया। अशनीर ने 2018 के बाद से आज तक कभी पीछे मुड़कर नहीं देखा और भारतपे को दिन प्रतिदिन एक नयी ऊंचाई पर पहुंचा दिया।

हाल ही में, अशनीर ग्रोवर सोनी एंटरटेनमेंट पर प्रशारित शो शार्क टैंक इंडिया में नज़र आ रहे है। टीवी रियलिटी शो में अपनी भूमिका के हिस्से के रूप में, वह उभरते उद्यमियों के विचारों में निवेश करेंगे ताकि उन्हें बढ़ने में मदद मिल सके।

अशनीर ग्रोवर की पूरी जीवन कहानी | Ashneer Grover life story in hindi
Source : Google.com

विवाद (कॉन्ट्रोवर्सीज)

4 मिनट 29 सेकेंड का एक ऑडियो क्लिप सोशल मीडिया पर इस कैप्शन के साथ वायरल हो गया- अमीर संस्थापक गरीब बैंक कर्मचारियों के साथ कैसा व्यवहार करते हैं। शार्क टैंक इंडिया के जज और भारतपे के संस्थापक अशनीर ग्रोवर ने नायका के आईपीओ में शेयर आवंटन नहीं मिलने के लिए कोटक महिंद्रा बैंक के एक कर्मचारी को गाली देने के आरोपों से इनकार किया।

अशनीर ग्रोवर ने ट्वीट किया, “दोस्तों। चिल। यह कुछ घोटालेबाज द्वारा धन उगाहने की कोशिश कर रहा एक नकली ऑडियो है (बिटकॉइन में यूएस $ 240K)। मैंने झुकने से इनकार कर दिया। मेरे पास और चरित्र है। और इंटरनेट के पास पर्याप्त घोटालेबाज हैं।उन्होंने ई-मेल पर “यूनिकॉन बाबा” के साथ अपनी बातचीत के स्क्रीनशॉट भी साझा किये।

अशनीर ग्रोवर के बारे में रोचक तथ्य | Interesting facts about Ashneer Grover

10 ऐसे कुछ अज्ञात और रोचक तथ्य अशनीर ग्रोवर के बारे में जो शायद आप नहीं जानते होंगे। आइए आपको कुछ ऐसे ही तथ्य बताते है : 

  1. अशनीर ग्रोवर ने माधुरी जैन ग्रोवर के साथ शादी की है, जो एक उद्यमी हैं। उनके बारे में कमाल बात यह है कि माधुरी उन्ही के बैच की रैंक होल्डर हैं।
  2. उन्होंने अपने दोस्त की स्टार्टअप कंपनी ग्रोफर्स में कम वेतन पर काम किया। वह कंपनी के मुख्य वित्तीय अधिकारी थे।
  3. वाइस प्रेसिडेंट अशनीर ग्रोवर ने मई 2006 से मई 2013 तक कोटक इन्वेस्टमेंट बैंक में काम किया।
  4. अशनीर ने पीसी ज्वैलर लिमिटेड के लिए बिजनेस डेवलपमेंट को भी संभाला।
  5. उन्होंने अमेरिकन एक्सप्रेस के लिए कॉर्पोरेट विकास निदेशक के रूप में भी काम किया।
  6. अशनीर ग्रोवर अपने पूरे परिवार के साथ देश – विदेश की यात्रा करना बहुत पसंद करते हैं।
  7. अशनीर ने अमेरिकन एक्सप्रेस इंडिया कंपनी को ज्वाइन किया। अमेरिकन एक्सप्रेस इंडिया कंपनी में वो वाकी पेमेंट कम्पनीज में इन्वेस्ट करते थे। अशनीर ने पेटीएम, मोबिक्विक, पाइन लैब्स जैसी बड़ी – बड़ी कम्पनीज को अच्छी तरह देखा और इन्वेस्टमेंट के लिए इन कम्पनीज को टटोला भी।
  8. अशनीर की पत्नी माधुरी अपना खुद का फर्निशिंग व्यवसाय चलाती है मौवे और ब्राउन नाम से।
  9. अशनीर बहुत ही कम बोलने वाले व्यक्ति है उनका कहना है कि आपके शब्दों की बहुत अहमियत होती है।
  10. अशनीर ग्रोवर शार्क टैंक इंडिया में अन्य शार्क्स के मुकाबले बहुत ही ज्यादा अमीर है। यानि उनकी अकेले की नेट वर्थ ही इन सबसे कई ज्यादा है।

अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न | Frequently asked questions

अशनीर ग्रोवर भारतपे के संस्थापक और प्रबंध निदेशक हैं, जो अब शार्क टैंक इंडिया रियलिटी-शो में जज के रूप में काम कर रहे हैं।

अशनीर ग्रोवर की नेट वर्थ ₹770 करोड़ रूपए है।

हां! अशनीर ग्रोवर शादीशुदा हैं, उन्होंने माधुरी जैन ग्रोवर (उद्यमी) के साथ शादी के बंधन में बंध गए हैं।
 

भारतपे के संस्थापक अशनीर ग्रोवर एक फेक ऑडियो क्लिप वायरल होने की वजह से और सोनी टीवी पर प्रशारित शार्क टैंक इंडिया में आने की वज़ह से चर्चा में है।

भारतपे के संस्थापक अशनीर ग्रोवर है जोकि इस वक़्त सोनी टीवी पर प्रशारित शार्क टैंक इंडिया में अन्य व्यवसायों को बढ़ावा देकर उसमें अपना पैसा निवेश कर रहे है।

Leave a Comment